AICTE Scholarship Yojana: ग्रेजुएशन कर रही छात्राओं को AICTE देगी हर साल 25000 रुपए की छात्रवृति, जानिए कैसे करना होगा आवेदन

WhatsApp Group Join Now
Telegram Channel Join Now

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर AICTE के अध्यक्ष प्रोफेसर टी.जी. सीतारमण ने BCA, BBA और BMS कर रही छात्राओं को बड़ा तोहफा दिया है। अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (AICTE) ने BCA, BBA और BMS कर रही छात्राओं के लिए छात्रवृति योजना की शुरुआत की है।

इस छात्रवृति के तहत गरीब परिवार की मेधावी छात्राओं को लाभ प्रदान किया जाएगा। AICTE ने एआईसीटीई अप्रूव्ड संस्थानों में पढ़ने वाली BCA, BBA और BMS छात्राओं के लिए एक नई योजना की शुरुआत की है।

एआईसीटीई अप्रूव्ड संस्थानों में पढ़ने वाली यूजी प्रबंधन/कम्प्यूटर एप्लीकेशन (BCA, BBA और BMS) की आर्थिक रूप से कमजोर मेधावी छात्राओं को हर साल 25000 रुपए की स्कॉलरशिप दी जाएगी।

इस स्कॉलरशिप का लाभ देशभर की एआईसीटीई अप्रूव्ड संस्थानों में पढ़ने वाली कुल 3000 पात्र छात्राओं को दिया जाएगा। अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद द्वारा इस स्कॉलरशिप के लिए हर साल 7.5 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे।

8 मार्च को आयोजित किए गए अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस समारोह में एआईसीटीई के अध्यक्ष प्रोफेसर टी.जी. सीतारमण ने BCA, BBA और BMS छात्राओं के लिए इस योजना की घोषणा की है।

ये भी पढ़ें   Central Sector Scholarship Scheme 2024: इस स्कॉलरशिप स्कीम के तहत 3 साल तक मिलेगी स्कॉलरशिप, आवेदन की अंतिम तिथि 31 जनवरी, ऐसे करे अपना आवेदन

महिलाओ को सशक्त बनाने और तकनीकी और प्रबंधन शिक्षा में आगे लाने के उद्देश्य से इन्हे प्रोत्साहित किया जा रहा है। इस योजना के माध्यम से छात्राए स्कॉलरशिप का लाभ उठाकर अपनी शिक्षा को पूरी कर सकेगी।

आर्थिक रूप से कमजोर परिवार की छात्राए इस योजना के तहत लाभ लेकर आर्थिक तंगी से दूर होंगी। AICTE के अध्यक्ष प्रोफेसर टी.जी. सीतारमण ने कहा की BCA, BBA और BMS पाठ्यक्रम इस बार ही एआईसीटीई के दायरे में आए है इसीलिए प्रबंधन शिक्षा में लड़कियों को सशक्त बनाने, सस्ती शिक्षा देने आदि के उद्देश्य से यह स्कॉलरशिप शुरू की गई है।

उन्होंने कहा की एआईसीटीई महिलाओ को आगे बढ़ने और इंजीनियरिंग व मैनेजमेंट के क्षेत्र में अग्रणी लाने के लिए समावेशी वातावरण देता है। आज के उस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको AICTE Scholarship Yojana से जुड़ी पूरी जानकारी विस्तार से बताने वाले है। आप हमारे इस लेख को अंत तक जरूर पढ़े।

छात्राओं के लिए एआईसीटीई ने की ये पहल

  • छात्राओं को तकनीकी शिक्षा के लिए प्रोत्साहित करने और उन्हें सहायता पहुँचाने के उद्देश्य से एआईसीटीई प्रगति स्कॉलरशिप शुरू करती है।
  • इसके तहत तकनीकी शिक्षा प्राप्त करने के लिए 5000 मेधावी छात्राओं को स्कॉलरशिप प्रदान की जाती है।
  • एआईसीटीई ने अमेजन के साथ भी अपना साझा किया है। अमेजन वाउ के तहत मिलकर देशभर के इंजीनियरिंग कॉलेजों में पढ़ने वाली छात्राओं को प्रौद्योगिकी उद्योग में आगे बढ़ने के लिए आवश्यक कौशल के साथ सशक्त किया है।
  • टेकसक्षम कार्यक्रम के तहत एआईसीटीई ने वर्ष 2021 तक 19000 से अधिक स्टूडेंट को प्रशिक्षित किया है। जिनमे से 14000 छात्राए शामिल है।
  • एआईसीटीई ने वीमेन आंत्रप्रिन्योरशिप इन वेस्ट मैनेजमेंट कार्यक्रम भी शुरू किया है। इससे छात्राओं को वेस्ट मैनेजमेंट उद्यमशीलता अपनाने के लिए प्रेरित करना।
ये भी पढ़ें   Mukhyamantri Medhavi Vidyarthi Yojana 2024: मुख्यमंत्री मेधावी विद्यार्थी योजना के तहत मिलेगी 1.50 लाख रुपए तक की स्कॉलरशिप, 12वीं पास युवा ऐसे करे अपना आवेदन

इंजीनियरिंग और तकनीकी छात्राओं की संख्या बढ़ी

AICTE के अध्यक्ष प्रोफेसर टी.जी. सीतारमण ने कहा की हाल ही के वर्षो में एआईसीटीई अप्रूव्ड संस्थानों में छात्राओं की संख्या बढ़ी है। वर्ष 2022-23 में 39 प्रतिशत छात्राओं का एडमिशन था। जबकि वर्ष 2020-21 में 30 प्रतिशत छात्राओं का एडमिशन रहा। वही 2021-22 में 16 प्रतिशत छात्रों का एडमिशन था।

इंजीनियरिंग, स्नातक और डिप्लोमा करने वाली छात्राओं की संख्या में इजाफा हुआ है। साल 2022-23 में 39 प्रतिशत महिलाओ ने इंजीनियरिंग डिप्लोमा कोर्स किया और 44 प्रतिशत छात्राओ ने इंजीनियरिंग स्नातक पाठ्यक्रम में एडमिशन लिया है।

Leave a comment

Join WhatsApp