Rajasthan Shram Vibhag Yojana 2024: प्रदेश के श्रमिक कार्ड धारकों को राजस्थान सरकार दे रही है इन योजनाओं का लाभ, सभी श्रमिक कार्ड धारक उठाएँ लाभ

WhatsApp Group Join Now
Telegram Channel Join Now

Rajasthan Shram Vibhag Yojana 2024: राजस्थान सरकार श्रमिकों के लिए समय-समय पर अलग-अलग तरह की योजनाएं शुरू करती है। इसका मुख्य कारण है कि राज्य में मौजूद सभी श्रमिकों को इन योजनाओं का लाभ मिल सके और उनको किसी तरह की परेशानी ना हो। इन योजनाओं के माध्यम से उन सभी को सामाजिक और आर्थिक सुरक्षा भी दी जाती है।

श्रमिकों इन सभी परेशानियों को देखते हुए राज्य सरकार के द्वारा श्रमिक योजनाओं को सुचारू रूप से चालू किया गया है। जिससे कि किसी भी श्रमिक को कोई परेशानी ना हो। राजस्थान सरकार ने श्रमिक कार्ड योजना की शुरुआत इसलिए की है ताकि सभी सरकारी योजनाओं का लाभ यहां के हर वर्ग के श्रमिक को मिल सके।

आज के इस लेख के माध्यम से हम आपको बताएंगे कि राजस्थान श्रमिक कार्ड ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन किस तरह से किया जाता है। राजस्थान श्रमिक कार्ड के लाभ राजस्थान श्रमिक कार्ड योजना के अंतर्गत आने वाली सभी योजनाओं की जानकारी इसके अलावा इस योजना से संबंधित हर प्रकार की जानकारी आपको यहां बताने वाले हैं..

राजस्थान श्रमिक विभाग योजनाएँ क्या है? (Rajasthan Labour Department Schemes)

राजस्थान सरकार के द्वारा श्रम विभाग मंत्रालय ने श्रमिकों मजदूर उनके बच्चों के लिए कई तरह की योजना चलाई है। जिससे कि श्रमिकों के बच्चों के लिए स्कॉलरशिप योजना, आवास निर्माण योजना, महिलाओं के लिए विशेष प्रसूति योजना, श्रमिकों की लड़कियों के लिए विभिन्न तरह के कल्याणकारी योजनाओं का संचालन किया जा रहा है। लेकिन लोगों को जानकारी न होने की वजह से इन योजनाओं का लाभ वहा के बहुत से मजदूरों को नहीं मिल पा रहा है।

राजस्थान राज्य में रहने वाले सभी मजदूरों के पास में लेबर कार्ड या फिर श्रमिक कार्ड होगा तो उन सभी श्रमिक को उसके परिवार को घर बीमा स्वास्थ्य देखभाल योजना, शुभ शक्ति योजना, प्रसूति सहायता योजना और भी अन्य सभी योजनाओं का पूरा लाभ दिया जाएगा।

ये भी पढ़ें   Aayushman Card Update: राशन की दुकानों पर 2 मार्च को बनेगा आयुष्मान कार्ड, मिलेगा 5 लाख तक का फ्री इलाज, जानिए पूरी खबर

जो भी श्रमिक कार्ड से वंचित है तो आज ही आप योजना के ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं। राजस्थान राज्य के श्रमिक को लाभार्थी कार्ड बनवाने के लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों ही तरह की सुविधा दी गई है। इसलिए आप ऑफलाइन अगर आवेदन करना चाहते हैं तो आप अपने नजदीक श्रम विभाग में जाकर आवेदन कर सकते हैं।

राजस्थान श्रमिक कार्ड योजना का उद्देश्य

राजस्थान राज्य में श्रमिक कार्ड योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य जो भी राज्य के मजदूर वर्ग के लोग हैं, जो आर्थिक स्थिति से कमजोर है। और अपनी आर्थिक जरूरतों को भी वह सही ढंग से पूरा नहीं कर पाते हैं।

इसके अलावा वह अपने बच्चों को भी सही तरीके से सुविधाएं नहीं दे पा रहे हैं। राज्य सरकार ने श्रमिकों की सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए, कई तरह की परेशानी से छुटकारा पाने हेतु श्रमिक कार्ड योजना को शुरू किया है।

इस योजना के तहत राज्य के सभी श्रमिकों को राज्य में जो भी योजनाएं चल रही है। उनका पूरा लाभ पहले दिया जाएगा। इसके अलावा राज्य सरकार के द्वारा जो भी अतिरिक्त वित्तीय सहायता या फिर अन्य सुविधा मिल रही है।

उनका भी पूरा लाभ मिलेगा। राजस्थान श्रमिक कार्ड के माध्यम से राजस्थान राज्य के रहने वाले मजदूर वर्ग के परिवार अब अपना जीवन अच्छे से व्यतीत कर सकते हैं।

राजस्थान श्रमिक कार्ड के अंतर्गत आने वाली योजना

राजस्थान राज्य सरकार के द्वारा श्रम विभाग ने श्रमिक कार्ड योजना के तहत कई तरह की योजनाएं चला रखी है जो की निम्न है–

  • शुभशक्ति योजना
  • निर्माण श्रमिक जीवन व भविष्य सुरक्षा प्लान
  • निर्माण श्रमिक शिक्षा व कौशल विकास योजना
  • निर्माण श्रमिक सुलभ्य आवास योजना
  • प्रसूति सहायता योजना
  • निर्माण श्रमिक औजार/टूलकिट योजना
  • निर्माण श्रमिक सामान्य या दुर्घटना मृत्यु या घायल सहायता योजना
  • निर्माण श्रमिक अंतर्राष्ट्रीय खेल प्रोत्साहन योजना
  • सिलिकोसिस पीड़ित के लिए सहायता योजना

शुभ शक्ति योजना

राजस्थान सरकार ने राज्य के श्रमिकों के लिए शुभ शक्ति योजना को भवन और अन्य संसर्ग निर्माण के लिए शुरू किया है। इस योजना के माध्यम से लाभार्थी की अविवाहित पुत्री अविवाहित महिलाएं और वयस्क पूर्ण रूप से आत्मनिर्भर और उद्यमी बनाने के लिए शुरू की गई है। इस योजना को एक जनवरी 2016 से शुरू किया गया था। योजना के तहत ₹55000 की राशि दी जाती है। ताकि अपना खुद का कोई काम शुरू कर सके।

ये भी पढ़ें   Ayushman Bharat Yojana New List 2024: आयुष्मान कार्ड की नई लिस्ट जारी, ऐसे देखे लिस्ट में अपना नाम

निर्माण श्रमिक जीवन भविष्य योजना

भवन निर्माण और अन्य निर्माण के लिए श्रमिकों के जीवन को देखते हुए इस योजना को शुरू किया है इस योजना के माध्यम से मंडल में रजिस्टर्ड लाभार्थी को इंश्योरेंस और पेंशन का पूरा लाभ मिलेगा। इस योजना के तहत प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना अटल पेंशन योजना का भी लाभ मिलेगा।

श्रमिक शिक्षा कौशल विकास योजना

राजस्थान शिक्षा कौशल विकास योजना के तहत भवन और अन्य निर्माण करने वाले श्रमिकों के बच्चों को लाभ पहुंचाने के लिए शिक्षा कौशल योजना को शुरू किया है। इसी योजना को तीन तरह के भागों में बांट दिया गया है।

शिक्षा सहायता योजना, मेधावी छात्र-छात्राओं को नगद पुरस्कार योजना तथा कौशल शक्ति योजना के रूप में बांट दिया है। ताकि तीनों योजनाओं का एकीकरण होने के बाद बच्चों को सही शिक्षा और कौशल विकास के लिए प्रोत्साहित किया जा सके।

प्रसूति सहायता योजना

इस योजना को निर्माण मजदूर श्रमिकों के लिए शुरू किया है जिन मजदूर महिलाओं की आर्थिक स्थिति सही नहीं है। उनको प्रसूति की स्थिति में आर्थिक सहायता दी जाएगी। इसका लाभ केवल राजस्थान राज्य की श्रमिक महिलाओं को ही दिया जाएगा।

योजना के तहत लाभार्थी महिला अधिनियम की धारा 12 के तहत हिताधिकारी एवं अधिनियम की धारा 13 के तहत हीताधिकार परिचय पत्र जारी होना जरूरी है।

राजस्थान श्रमिक कार्ड योजना से मिलने वाले लाभ

राजस्थान श्रमिक कार्ड योजना मिलने वाले अन्य लाभ-

  • श्रमिक कार्ड योजना का लाभ आपको किसी भी बीमा पॉलिसी लेने पर बीमा धारक को जो बीमा प्रीमियम राशि भरनी होती है। उसका पूरा खर्चा सरकार के द्वारा उठाया जाएगा।
  • योजना के अंतर्गत श्रमिक शिक्षा कौशल विकास योजना में लाभार्थी परिवार के बच्चे को 8000 से ₹25000 की छात्रवृत्ति सरकार द्वारा दी जाएगी।
  • योजना में राज्य के किसी भी श्रमिक महिला बच्चे को जन्म देती है तो उसकी लड़की होने पर ₹21000 और लड़का होने पर ₹20000 की सहायता राशि मिलेगी।
  • योजना के लिए श्रमिक परिवार के लोगों को मकान निर्माण के लिए 50 लख रुपए की सहायता राशि प्राप्त होगी।
  • शुभ शक्ति योजना के तहत कोई भी लड़की का जन्म होता है तो उसको सरकार की तरफ से ₹50000 की सहायता राशि और दो लड़के होने पर ₹100000 की राशि दी जाएगी।
  • सिलिकोसिस पीड़ित योजना 100000 से 300000 की वित्तीय सहायता राशि मिलेगी, इस योजना के तहत वह लाभार्थी श्रमिक पात्र होंगे जो हिताधिकारी मंडल के रूप में रजिस्टर्ड होगा।
ये भी पढ़ें   Govt Schemes For Girl Child: सरकार बेटियों के लिए चलाती है ये योजनायें, जानिए कौन-कौनसी है ये योजनायें और क्या है फायदे

श्रमिक कार्ड योजना के लिए जरूरी डॉक्यूमेंट

  • श्रमिक लाभार्थी को राजस्थान का मूल निवासी होना जरूरी है।
  • 90 दिन तक नरेगा में काम करने वाला श्रमिक
  • आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • बैंक अकाउंट डिटेल्स
  • प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

राजस्थान श्रमिक विभाग योजना के लिए आवेदन प्रक्रिया

योजना में आवेदन के लिए सबसे पहले आपको आधिकारिक वेबसाइट से ऑफलाइन फॉर्म को डाउनलोड करना है और उसे भरना होगा। आवेदन पत्र पर अपना फोटो, हस्ताक्षर व सभी आवश्यक दस्तावेज संलघ्न करने है। ऑफलाइन आवेदन पत्र को भरने के बाद आप नजदीकी ईमित्र सेवा केंद्र जाकर ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया पूरी करवा सकते है या फिर नीचे बताये चरणों का अनुसरण कर खुद ऑनलाइन आवेदन कर सकते है।

  • सबसे पहले आपको अपनी SSO ID की मदद से SSO Portal में लॉगिन करना होगा।
  • अब LDMS Application को चुनना होगा।
  • आगे BOCW Welfare Board पर क्लिक करना है और Apply For Scheme को चुनना है।
  • अब “ श्रमिक विभाग की योजना” को चुनना है आपके सामने ऑनलाइन आवेदन पत्र खुलेगा।
  • इस ऑनलाइन आवेदन पत्र में पूछी गयी सारी जानकारी भरनी है।
  • अब ऑफलाइन आवेदन पत्र व सभी दस्तावेजों को स्कैन करके अपलोड करना है।
  • सारी डिटेल को वेरीफाई करने के बाद ऑनलाइन आवेदन पत्र को फाइनल सब्मिट करना है।

Rajasthan Shram Vibhag Yojana 2024-निष्कर्ष

आज हमने इस आर्टिकल के माध्यम से Rajasthan Shram Vibhag Yojana 2024 के बारे में जानकारी प्रदान कि है। हम उम्मीद करते हैं कि आपको जो भी जानकारी यहां इस लेख में दी है यह आपको पसंद आएगी। अगर आप से भी अन्य किसी जानकारी इस लेख से संबंधित जाना चाहते हैं तो कमेंट सेक्शन में कमेंट कर पूछ सकते हैं।

3 thoughts on “Rajasthan Shram Vibhag Yojana 2024: प्रदेश के श्रमिक कार्ड धारकों को राजस्थान सरकार दे रही है इन योजनाओं का लाभ, सभी श्रमिक कार्ड धारक उठाएँ लाभ”

    • कुछ नही मिलता मजदूर को सब पेसो का खेल है मैने फार्म भरा रिजेक्ट कर दिया जिसने पैसा दिया पास होगया चाहे मजदूर हो या ना हो सुभस्कती का तो कुछ होता ही नहीं तीन साल होगया अभी तक कोई भी करवाई नही हुई आखरी में रिजेक्ट हो गया तीन सो रुपे लगते है फॉर्म भरने में रिजेक्ट करने मे

      Reply
  1. मैंने अपने बच्चे के छात्रवृत्ति के फार्म भरा 2साल बिता गये आज तक छात्रवृत्ति नहीं मिली

    Reply

Leave a comment

Join WhatsApp