CBSE Board Update: अगले सत्र से सीबीएसई बोर्ड परीक्षाएं वर्ष में दो बार होंगी, जानिए पूरी खबर

WhatsApp Group Join Now
Telegram Channel Join Now

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड अब बोर्ड परीक्षाओं में कुछ बदलाव करने वाला है। जो विद्यार्थी इस बात से डरते है कि उनके पास बोर्ड परीक्षा पास करने का बस एक ही विकल्प है उनके लिए खुशखबरी है। दरअसल, केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि सीबीएसई की 10वीं और 12वीं बोर्ड की परीक्षाएं अब साल में दो बार होंगी।

बोर्ड के द्वारा इसके लिए अब नए नियम भी लाए जा रहे है। शैक्षणिक सत्र 2024-25 में सीबीएसई की 10वीं और 12वीं बोर्ड की परीक्षा में दो बार शामिल हो सकेंगे। आने वाले सत्र में साल में 2 बार बोर्ड परीक्षा पेटर्न अपनाया जाएगा। इसका अर्थ है की अब 10वीं कक्षा और 12वीं कक्षा के लिए 2025 की बोर्ड परीक्षाओं से अपनाया जाएगा।

वर्तमान समय में 9वीं और 11वीं कक्षा में पढ़ रहे बच्चों के लिए प्रभावी रहेगा। जानकारी के लिए बता दे की इससे पहले भी अक्टूम्बर 2023 में केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने अपने एक इंटरव्यू में 2024 से बोर्ड परीक्षाओं को 2 बार आयोजित कराने की बात कही थी। आइये जानते है आज के इस लेख के माध्यम से संबंधित पूरी खबर, आप हमारे साथ इस आर्टिकल के माध्यम से अंत तक जरूर जुड़े रहे।

बेस्ट स्कोर से बनेगी मेरिट

अब सीबीएसई के 10वीं और 12वीं कक्षा के छात्र-छात्राओं को अपना अच्छा परिणाम बनाने के लिए दो ऑप्शन मिलेंगे। केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय के अधिकारी ने बताया कि अब साल में दो बार बोर्ड परीक्षा का आयोजन करवाया जाएगा।

ये भी पढ़ें   B.Ed After 12th: सरकारी टीचर बनने के लिए अब ग्रेजुएशन की नहीं पड़ेगी जरूरत, 12वीं के बाद करें बीएड, जाने सम्पूर्ण डिटेल

इन दोनों परीक्षाओं में बैठने वाले स्टूडेंट अपने बेस्ट स्कोर को चुन सकते है। यदि कोई छात्र किसी एक बोर्ड परीक्षा को ही देकर सन्तुष्ट है तो वह चाहे तो दूसरी बार होने वाली बोर्ड परीक्षा में शामिल नही होने का विकल्प चुन सकता है।

शिक्षा मंत्रालय के सूत्रों के अनुसार बताया गया है कि सत्र 2024-25 से सीबीएसई की बोर्ड परीक्षाएं दो बार होगी। इस सत्र में पहली परीक्षा नवम्बर-दिसम्बर 2024 में होंगी। वही दूसरी परीक्षा फरवरी मार्च 2025 में होंगी। दोनों परीक्षाओ का बेस्ट स्कॉर लेकर मेरिट बनाई जाएगी।

यह विद्यार्थियों के लिए बड़ी राहत की खबर है। विद्यार्थियों को अपना अच्छा रिजल्ट बनाने में मदद मिलेगी। अपने बेस्ट स्कोर के आधार पर वे अपना बढ़िया रिजल्ट बना सकते है। उन्हें दो बार मौका मिलेगा। यदि किसी एक परीक्षा के अंको से संतुष्ट हो पाया है तो उसके पास अगली परीक्षा न देने का विकल्प रहेगा।

दो बार बोर्ड परीक्षा कराने का उद्देश्य

शिक्षा विभाग के अधिकारी ने बताया कि साल में अब दो बार परीक्षा करवाई जाएगी। इन दोनों परीक्षाओं में शामिल होने का विद्यार्थियों के लिए अनिवार्य नही रहेगा।

ये भी पढ़ें   राजस्थान में महिलाओं के लिए खुशखबरी! अब सरकार हर साल प्रदेश की महिलाओं के खाते में भेजेगी 10 हजार रुपये, गृह लक्ष्मी गारंटी योजना होगी लागू

सीबीएसई 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा दो बार कराने का मकसद उन छात्रों का तनाव कम करना जो की इस बात से डरते है कि उनके पास परीक्षा पास करने का एक ही मौका है। उन्हें अब परीक्षा पास करने के दो विकल्प मिल जाएंगे।

एक परीक्षा में कम अंक आने से वे दूसरी परीक्षा में मजबूती से तैयारी कर सकते है। इसके साथ ही वे विद्यार्थी जो की अपने रिजल्ट को बेहतरीन रखना चाहते है उनके लिए भी मौका रहेगा। अपने स्कोर को वे ओर अच्छा कर सकते है।

Leave a comment

Join WhatsApp