ग्रामीण क्षेत्रो में किसानों की आय को बढ़ाने के लिए मोदी सरकार ने लिया एक ओर बड़ा फेसला, जानिए क्या है यह योजना और कैसे मिलेगा इसका लाभ

National Livestock Mission
WhatsApp Group Join Now
Telegram Channel Join Now

भारत एक कृषि प्रधान देश है, यहाँ पर अधिकतर नागरिक गाँवों में निवास करते है। केंद्र सरकार भारतीय किसानो की आय में इजाफा करने के लिए विभिन्न प्रकार की योजनाओ का संचालन कर रही है। भारत में रहने वाले ग्रामीण क्षेत्रो के किसानों की आय को बढ़ाने के लिए मोदी सरकार ने एक ओर बड़ा फैसला लिया है।

जैसा की हमे पता है भारत में किसानो की आय का मुख्य स्रोत खेती है इसके अलावा दूसरा मुख्य स्रोत पशुपालन है। इसीलिए भारतीय किसान खेती के आलावा पशुपालन पर भी निर्भर रहते है। भारत सरकार द्वारा पशुपालकों की आय को बढ़ाने के लिए विभिन्न प्रकार की योजनाओ का संचालन किया जा रहा है। इन योजनाओ का सकारात्मक प्रभाव भी दिखाई देता है।

केंद्र सरकार ने किसानो की आय को बढ़ाने के उद्देश्य से साल 2014 में राष्ट्रीय पशुधन मिशन योजना की शुरुआत की थी। इसके बाद इस योजना का पुनर्गठन साल 2022-23 में किया गया था। इस योजना के तहत पशुपालको की आय बढ़ाने पर जोर दिया गया था। इस योजना के लाभार्थियों के लिए बड़ी खुशखबरी है।

ये भी पढ़ें   बड़ीखबर! 4 फीसदी बढ़ा महंगाई भत्ता, होली से पहले भाजपा सरकार ने दिए 4 बड़े तोहफे, जाने पूरी खबर

दरअसल, केंद्र सरकार ने इस योजना में संशोधन किया है। आज के इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको राष्ट्रीय पशुधन मिशन योजना में हुए संशोधन के बारे में पुरे विस्तार से बताने वाले है। आप हमारे इस लेख को अंत तक जरूर पढ़े।

राष्ट्रीय पशुधन मिशन योजना में यह हुआ संशोधन

भारत सरकार में राष्ट्रीय पशुधन मिशन योजना में संशोधन किया है। बता दे की केंद्र सरकार ने घोड़ा, गधा, ऊँट और खचर से जुड़े कारोबार को स्थापित करने के लिए 50 फीसदी तक सब्सिडी देने का ऐलान किया है इसके साथ ही विभिन्न गतिविधियों को शामिल कर राष्ट्रीय पशुधन मिशन योजना में संशोधन में मंजूरी प्रदान की है।

केंद्र सरकार के द्वारा किए गए संशोधन के अनुसार केंद्र सरकार घोड़े, गधे और ऊंट के वीर्य और प्रजनन फ़ार्म की स्थापना के लिए 10 करोड़ रुपए खर्च करेगी। सुचना एंव प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने बताया की राष्ट्रीय पशुधन मिशन योजना की गतिविधियों को शामिल करने की मंजूरी प्रदान कर दी है।

ये भी पढ़ें   MSME Loan Scheme 2024: MSME लोन योजना के तहत पाए 10 लाख तक का लोन, जाने आवेदन प्रक्रिया

राष्ट्रीय पशुधन मिशन योजना क्या है?

जैसा की हम जानते है की किसानों की आय खेती के अलावा पशुपालन से भी बनती है। इसीलिए सरकार द्वारा किसानो को पशुपालन के लिए भी प्रोत्साहीत किया जाता है। पशुपालन के लिए सरकार द्वारा विभिन्न प्रकार की योजनाओ का संचालन किया जाता है। ताकि इन योजनाओ से पशुपालको को अधिक से अधिक लाभ मिल सके।

केंद्र सरकार द्वारा पशुपालको की आय को बढ़ाने के उद्देश्य से राष्ट्रीय पशुधन मिशन योजना की शुरुआत की थी। इस योजना की शुरुआत साल 2014-15 में की गई थी। इस योजना के माध्यम से पशुपालको और किसानो के जीवन स्तर में सुधार लाने के लिए काम किया जाता है। किसानो की आय को बढ़ाने के लिए सरकार द्वारा इस योजना के माध्यम से जोर दिया जा रहा है।

इस योजना के तहत नश्लों का सरंक्षण, उनमे सुधार, उत्पादन में बढ़ोतरी आदि की जाती है। भूमिहीन और छोटे और सीमांत किसानो को इस योजना से काफी लाभ मिला है। उनकी आजीविका के अवसरो में बढ़ोतरी करना, आर्थिक और सामाजिक उत्थान में बढोत्तरी करने के उद्देश्य से इस योजना की शुरुआत की गई है।

Leave a comment

Join WhatsApp